(PMAY) Pradhan Mantri Yojana list 2021-22 प्रधानमंत्री योजनाओं की सूची इन हिंदी

हेलो  दोस्तों आज हम इस पोस्ट में बात करने वाले है,(PMAY) Pradhan Mantri Yojana list 2021-2022 केंद्र सरकार के द्वारा जितनी भी योजनाएं पेश की जाती है ज्यादातर योजनाएं सभी राज्य में लागू होती है और आज हम आपको पीएम मोदी योजना के तहत भारत सरकार के द्वारा विभिन्न क्षेत्रों में बहुत सारे कल्याणकारी योजनाओं की शुरुआत की गई हैं इनकी जानकारी देने वाले हैं ।(PMAY) Pradhan Mantri Yojana list 2021-22

जैसे कि प्रधानमंत्री आवास योजना, पीएम रोजगार योजना, आयुष्मान भारत, सामाजिक कल्याण योजनाएं, केंद्र सरकार द्वारा शुरू की गयी योजनाएं इत्यादि। यहाँ आपको PM Modi Yojana के सभी विवरण, मुख्य विशेषताएं, पात्रता शर्ते, आवश्यक दस्तावेज, महत्वपूर्ण तिथियां, आवेदन/ पंजीकरण प्रक्रिया और योजना दिशानिर्देश मिलेगी।

इस आर्टिकल को अंत तक पढ़े । PM Modi scheme 2021 के तहत विभिन्न विभिन्न प्रकार के मंत्रालय द्वारा भिन्न-भिन्न प्रकार के कल्याणकारी कार्यक्रम , महिला कल्याण , युवा कल्याण , कृषि कल्याण इत्यादि के क्षेत्र में बहुत सारी Government schemes चलाई जा रही हैं जिनकी जानकारी हम आपको देने वाले हैं ।

Official Portal Click here
MPNRC Home Click here

Table of Contents

(PMAY) Pradhan Mantri Yojana list 2021-22

(PMAY) Pradhan Mantri Yojana राज्य-अनुसार PMAY लिस्ट 2021-22

राज्य PMAY के तहत स्वीकृत घर PMAY के तहत पूरे हो चुके/मंजूर किए गए घर
आंध्र प्रदेश 20,05,932 16%
उत्तर प्रदेश 15,73,029 27%
महाराष्ट्र 11,72,935 23%
मध्य प्रदेश 7,84,215 40%
तमिलनाडु 7,67,664 38%
कर्नाटक 6,51,203 25%
गुजरात 6,43,192 58%
वेस्ट बंगाल 4,09,679 46%
बिहार 3,12,544 21%
हरियाणा 2,67,333 8%
छत्तीसगढ 2,54,769 31%
तेलंगाना 2,16,346 45%
राजस्थान 2,00,000 38%
झारखंड 1,98,226 38%
ओडिशा 1,53,771 44%
केरल 1,29,297 55%
असम 1,17,410 15%
पंजाब 90,505 25%
त्रिपुरा 82,034 50%
जम्मू 54,600 12%
मणिपुर 42,825 9%
उत्तराखंड 39,652 33%
नागालैंड 32,001 13%
मिजोरम 30,340 10%
दिल्ली 16,716
पुडुचेरी 13,403 21%
हिमाचल प्रदेश 9,958 36%
अरुणांचल प्रदेश 7,230 25%
मेघालय 4,672 21%
दादरा एंड नगर हवेली 4,320 51%
लदाख 1,777 21%
दमन एंड दीव 1,233 61%
गोवा 793 93%
अंडमान और निकोबार 612 3%
सिक्किम 537 45%
चंडीगढ़ 327
लक्षद्वीप 0 0%

पीएम मोदी योजना की नीव

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना कृषि क्षेत्र में किसानों के विकास के लिए बहुत ही क्रांतिकारी साबित हुई है । ऐसी ही बहुत सारे Sarkari Yojana की शुरुआत Pradhan Mantri Yojana के तहत की गई है , इस आर्टिकल को आप ध्यान से पढ़ें ताकि आप इन सभी योजनाओं की जानकारी प्राप्त कर सके ।

प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी की सरकार देश में पहली बार 2014 में बनी थी और यह सरकार अभी तक कायम है , विभिन्न प्रकार के अनेकों Sarkari Yojana 2021 की शुरुआत Pradhan Mantri Yojana के तहत निम्न वर्ग , आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग , पिछड़ा एवं अत्यंत पिछड़ा वर्ग के लोगों को लाभ पहुंचाने के लिए शुरू की गई है ।

प्रधानमंत्री आवास योजना (ग्रामीण और शहरी )

प्रधानमंत्री आवास योजना की शुरुआत दो स्तरों पर की गई है पहली ग्रामीण और दूसरी शहरी योजना के तहत वो व्यक्ति जिनके पास पक्का मकान नहीं है उन्हें सरकार के द्वारा सब्सिडी उपलब्ध कराया जाता है ताकि वह अपना मकान बना सके ।

प्रधानमंत्री आवास योजना शहरी क्षेत्र के लिए Pmayg के नाम से जानी जाती है तथा ग्रामीण क्षेत्र के लिए इसे pmay के भी नाम से जाना जाता है

आयुष्मान भारत योजना (प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना )

प्रधानमंत्री आयुष्मान भारत योजना ( PMJAY ) के तहत केंद्र सरकार के द्वारा सभी जरूरतमंद लोगों को स्वास्थ्य के ऊपर 5 लाख रुपए का सालाना बीमा दिया जाता है । इसके लिए पात्रता कि कुछ मापदंड बनाई गई है जिसकी जानकारी आप इस योजना के बारे में अधिक जानकारी प्राप्त कर जान पाओगे ।

प्रधानमंत्री आयुष्मान भारत योजना को प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के नाम से भी जाना जाता है , PMJAY को देशभर में लागू किया जा चुका है और इसके तहत सरकारी और निजी दोनों प्रकार के अस्पताल में मुफ्त में इलाज होने की सुविधा मौजूद है ।

आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना

12 नवंबर 2020 को हमारे देश के वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण जी के द्वारा आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना का आरंभ किया गया है। इस योजना को कोविड-19 काल से उभर रहे भारत में रोजगार को बढ़ावा देने के लिए आरंभ किया गया है। आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना के अंतर्गत सरकार द्वारा उन सभी प्रतिष्ठानों को सब्सिडी प्रदान की जाएगी जो नई भर्तियां करेंगे। इस योजना का मुख्य उद्देश्य नए रोजगार को प्रोत्साहन देना है। आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना के माध्यम से देश में रोजगार बढ़ेंगे। इस योजना के माध्यम से कोरॉना काल के चलते जिन लोगों का रोजगार गया था उन्हें रोजगार प्राप्त करने में आसानी होगी।

ऑपरेशन ग्रीन योजना

भारत सरकार द्वारा कोरोना काल के चलते ऑपरेशन ग्रीन योजना के दायरे को बढ़ाया गया है। आत्मनिर्भर भारत अभियान के अंतर्गत केंद्र सरकार के खाद प्रसंस्करण उद्योग मंत्रालय द्वारा ऑपरेशन ग्रीन योजना को संचालित किया जा रहा है। इस योजना के अंतर्गत फल और सब्जियों का उचित मूल्य सरकार द्वारा प्रदान किया जाएगा।

इसके लिए सरकार ने 500 करोड़ का बजट निर्धारित किया है। अब ऑपरेशन ग्रीन योजना के अंतर्गत आलू, प्याज, टमाटर के साथ फल और सब्जियों को भी शामिल किया गया है। इस योजना के अंतर्गत उधानिकी की खेती करने वाले किसानों को नुकसान से बचाने का उद्देश्य निर्धारित किया गया है।

मत्स्य सम्पदा योजना

जैसे कि आप सभी लोग जानते हैं सरकार द्वारा सन 2022 तक किसानों की आय दोगुनी करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। इसी बात को ध्यान में रखते हुए सरकार ने मत्स्य सम्पदा योजना का आरंभ किया है। मत्स्य सम्पदा योजना का उद्देश्य सरकार द्वारा मत्स्य पालन क्षेत्र का निर्यात बढ़ाना है।

इस योजना के माध्यम से मत्स्य पालन तथा डेरी से जुड़े किसानों की आय को बढ़ाने का प्रयास किया जाएगा। मत्स्य सम्पदा योजना के लिए सरकार ने ₹20000 करोड़ रुपए का बजट निर्धारित किया है। इस योजना के अंतर्गत समुंदर तथा तालाब की मछली पालन पर भी जोर दिया जाएगा।

विवाद से विश्वास योजना

विवाद से विश्वास योजना का आरंभ सरकार द्वारा विभिन्न कर मामलों का समाधान करने के लिए किया गया है। इस योजना के अंतर्गत आयकर विभाग और करदाताओं द्वारा सभी अपीलों को वापस लिया जाएगा। विवाद से विश्वास योजना खासतौर से उन लोगों के लिए है

जिनके खिलाफ आयकर विभाग द्वारा किसी उच्च मंच पर अपील की गई है। विवाद से विश्वास योजना के माध्यम से अब तक 45855 मामलों का समाधान कर दिया गया है। जिसके अंतर्गत 72,780 करोड रुपए कर की राशि सरकार द्वारा हासिल की गई है।

पीएम वाणी योजना

पीएम वाणी योजना को हमारे देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा 9 दिसंबर 2020 को आरंभ किया गया है। इस योजना के अंतर्गत सभी सार्वजनिक स्थानों पर वाई-फाई की सुविधा उपलब्ध करवाई जाएगी। यह सुविधा पूरी तरह से मुफ्त होगी। पीएम वाणी योजना के माध्यम से देश में वाईफाई क्रांति आएगी।

जिससे कि व्यवसाय को भी बढ़ावा मिलेगा और रोजगार के अवसरों में भी बढ़ोतरी होगी। पीएम वाणी योजना के सफलतापूर्वक कार्यान्वयन के लिए संपूर्ण देश में सार्वजनिक डाटा केंद्र खोले जाएंगे। जिसके माध्यम से वाई फाई सुविधा देश के सभी नागरिकों को प्रदान की जाएगी।

उत्पादन लिंक्ड प्रोत्साहन योजना

उत्पादन लिंक्ड प्रोत्साहन योजना का आरंभ 11 नवंबर 2020 को किया गया था। इस योजना के अंतर्गत घरेलू विनिर्माण को बढ़ावा दिया जाएगा। उत्पादन लिंक्ड प्रोत्साहन योजना में दवाएं, ऑटोकॉम्पोनेंट्स, ऑटोमोबाइल सहित 10 अन्य प्रमुख क्षेत्र शामिल किए गए हैं।

उत्पादन लिंक्ड प्रोत्साहन योजना के माध्यम से विनिर्माण की बढ़ोतरी होगी तथा देश में आयात पर निर्भरता कम होगी। इस योजना के माध्यम से निर्यात में भी बढ़ोतरी होगी। जिससे कि देश की अर्थव्यवस्था में सुधार आएगा। उत्पादन लिंक्ड प्रोत्साहन योजना के लिए सरकार द्वारा 1,45,980 करोड़ रुपए का बजट निर्धारित किया गया है।

प्रधानमंत्री कुसुम योजना

प्रधानमंत्री कुसुम योजना के माध्यम से किसानों को सिंचाई के लिए सौर ऊर्जा से चलने वाले सोलर पंप प्रदान किए जाएंगे। इस योजना को सरकार ने 2022 तक बढ़ा दिया है जिसके अंतर्गत 30.8 गीगावॉट की क्षमता प्राप्त करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है।

प्रधानमंत्री कुसुम योजना के सफलतापूर्वक कार्यान्वयन के लिए सरकार द्वारा 34,035 करोड रुपए का बजट निर्धारित किया गया है। प्रधानमंत्री कुसुम योजना के माध्यम से सौर पंप के अलावा ग्रिड से जुड़े सौर ऊर्जा और अन्य निजीकरण बिजली तंत्र भी किसानों को प्रदान किए जाएंगे। जिससे कि किसानों की आय में बढ़ोतरी होगी।

आयुष्मान सहकार योजना

आयुष्मान सहकारी योजना के माध्यम से स्वास्थ्य के क्षेत्र में हॉस्पिटल, हेल्थ केयर फॉर एजुकेशन, इंफ्रास्ट्रक्चर की स्थापना, आधुनिकीकरण, विस्तार, मरम्मत, रिनोवेशन करवाया जाएगा। इस योजना के अंतर्गत सहकारी समितियों को 10 हजार करोड़ का लोन बांटा जाएगा।

जिससे कि सेहकरी समितियां स्वास्थ्य सुविधाएं स्थापित करेंगी। आयुष्मान सहकारी योजना के माध्यम से सरकारी चिकित्सा का क्षेत्र मजबूत होगा तथा इस योजना के अंतर्गत मेडिकल कॉलेज और अस्पताल खोलने के लिए भी अनुमति प्रदान की जाएगी।

प्रधानमंत्री अटल पेंशन योजना

अटल पेंशन योजना के अंतर्गत केंद्र सरकार विभिन्न प्रकार की पेंशन योजनाएं उपलब्ध कराती है| योजना के अंतर्गत आवेदन कर कोई भी लाभार्थी अपना भविष्य सुरक्षित कर सकता है तथा 60 वर्ष की आयु के पश्चात मासिक तौर पर पेंशन प्राप्त कर सकता है|

यह योजना लाभार्थियों को सशक्त, आत्मनिर्भर बनाती है एवं उनके भविष्य को सुरक्षित करती है यह एक सामाजिक सुरक्षा पेंशन योजना है तथा इस योजना के बारे में अधिक जानकारी के लिए यहां क्लिक करें

मातृत्व वंदना योजना

योजना के अंतर्गत केंद्र सरकार गर्भवती महिलाओं को आर्थिक सहायता के रूप में रु 6000 प्रदान करती है प्रधानमंत्री गर्भावस्था सहायता योजना 2019 के अंतर्गत पहली बार गर्भधारण करने वाली तथा स्तनपान कराने वाली महिलाओ यह आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है| योजना के बारे में अधिक जानकारी जैसे पंजीकरण प्रक्रिया आवेदन फॉर्म तथा पात्रा जाने के लिए यहां क्लिक करें|

नेशनल एजुकेशन पालिसी योजना

केंद्र सरकार ने नेशनल एजुकेशन पालिसी को आरम्भ किया है इस योजना के अंतर्गत स्कूलों तथा कॉलेजों में होने वाली शिक्षा की नीति तैयार की जाती है। नेशनल एजुकेशन पालिसी के अंतर्गत 2030 तक स्कूली शिक्षा में 100% जी ई आर के साथ पूर्व विद्यालय से माध्यमिक विद्यालय तक शिक्षा का सार्वभौमीकरण किया जाएगा।

अंतर्गत सरकार ने एजुकेशन पॉलिसी में काफी सारे मुख्य बदलाव किए हैं पहले 10+2 का पैटर्न फॉलो किया जाता था परंतु अब नई शिक्षा नीति के अंतर्गत 5+3+3+4 का पैटर्न फॉलो किया जाएगा। जिसमें 12 साल की स्कूली शिक्षा होगी और 3 साल की प्री स्कूली शिक्षा होगी।

National Education Policy 2021 का मुख्य उद्देश्य भारत में  प्रदान की जाने वाली शिक्षा को वैश्विक स्तर पर लाना है। इस योजना के ज़रिये शिक्षा की गुणवत्ता में सुधार आएगा और बच्चे अच्छी शिक्षा प्राप्त कर पाएंगे।

अन्‍त्‍योदय अन्‍न योजना

इस योजना की शुरुआत केंद्र सरकार द्वारा देश के गरीब परिवारों को लाभ पहुंचाने के लिए की गयी है। इस योजना के अंतर्गत  अंत्योदय राशन कार्ड धारको को सरकार द्वारा प्रतिमाह 35 किलो राशन प्रदान किया जायेगा। केंद्र सरकार ने इस योजना के अंतर्गत एक और फैसला लिया है

कि देश के गरीब परिवारों के साथ साथ दिव्यांगों को भी इस योजना के अंतर्गत हर महीने 35 किलो अनाज गेहूं 2 रुपये प्रति किलोग्राम और धान 3 रुपये प्रति किलोग्राम के हिसाबप्रति परिवार को दिया जायेगा। अन्त्योदय अन्न योजना मुख्य रूप से गरीबों के लिए आरक्षित है,

शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों के गरीब परिवार को इस योजना का लाभ प्रदान किया जाएंगा। केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान जी का कहना है कि अंत्योदय अन्न योजना राशन कार्ड और प्राथमिकता वाले परिवार कि राशन कार्ड के अंतर्गत कौन लाभार्थी होंगे इसकी जवाबदेही राज्य सरकार पर है।

स्वनिधि योजना

इस योजना को केंद्र सरकार द्वारा देश के रेहड़ी और पटरी वालों (छोटे सड़क विक्रेताओं) को अपना खुद का काम नए सिरे से शुरू करने के लिए आरम्भ किया गया है।  इस स्वनिधि योजना के अंतर्गत देश के रेहड़ी और पटरी वालों (छोटे सड़क विक्रेताओं) को अपना खुद का काम आरम्भ करने के लिए केंद्र सरकार द्वारा 10000 रूपये तक का लोन उपलब्ध कराया जायेगा।

सरकार द्वारा लिया गया यह ऋण रेहड़ी पटरी वाले एक साल के भीतर किस्त में लौटना होगा। स्ट्रीट वेंडर आत्मनिर्भर निधि के अंतर्गत विभिन्न क्षेत्रों में वेंडर, हॉकर, ठेले वाले, रेहड़ी वाले, ठेली फलवाले आदि सहित 50 लाख से अधिक लोगों को योजना से लाभ प्रदान किया जायेगा | देश के जो इच्छुक लाभार्थी इस योजना का लाभ उठाना चाहते है तो वह योजना की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाकर ऑनलाइन आवेदन कर सकते है।

(PMAY) Pradhan Mantri Yojana list 2021-22

कुछ मुख्य योजनाओं की जानकारी निम्नलिखित है :

1.ऑपरेशन ग्रीन योजना : जैसा की पूरी दुनिया कोरोना वायरस जैसी गंभीर बीमारी से जूझ रही है। वहीँ भारत भी इससे अछूता नहीं रहा है। भारत सरकार ने ऑपरेशन ग्रीन योजना के जरिये फल और सब्जियों का उचित दाम रहे। यह निर्धारित किया है।

वहीँ कोरोना काल में इस योजना के दायरों को और बढ़ाया गया है। इसे सफल बनाने के लिए 500 करोड़ रूपये का बजट भी रखा गया है। अब इसके अनुसार आलू,प्याज़ , टमाटर को भी जोड़ दिया गया है। मुख्यतः इस योजना से किसानो को होने वाले नुकसान से बचाया जा सकेगा।

2. आत्मनिर्भर भारत योजना : बहुत से लोग कोरोना काल में अपना रोजगार खो बैठे। ऐसे में सरकार ने आगे बढ़ कर। उन्हें सहायता करने हेतु ही इस योजना की शुरुआत की है। इससे रोजगार को बढ़वा मिलेगा। व लोगो का भी उत्थान होगा। ऐसे में उन सभी रोजगार देने वाली फर्म को सब्सिडी सरकार से प्राप्त होगी। जो लोगो को ऐसे समय में रोजगार दे रहें हैं।

3. प्रधान मंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना : इस योजना से कोई भी भूखा न सोये। यह उदेश्य पूर्ण होगा। ऐसे में सरकार ने यह घोषणा की है। की देश में करोड़ो की संख्या में मौजूद गरीब लोगों को सहायता दी जाएगी। उन्हें योजना अनुसार 5 किलो गेहूं व चावल मुफ्त में दिया जायेगा। जब covid19 की वजह से लॉक डाउन किया गया। तब सरकार को आभास हुआ की  ऐसे हैं। जो की रोज मजदूरी कर जीवनयापन करते हैं। ऐसे में लॉक डाउन लगने के बाद उनके लिए बहुत ही मुश्किल था। सरकार की इस मदद से ऐसे लोगो को बहुत लाभ मिलेगा।

4. स्वामित्व योजना : यह योजना ग्रामीण क्षेत्र के लोगो के लिए बहुत हे लाभकारी है। इसमें उन्हें अपनी सम्पति के लिए एक सम्पति कार्ड दिया जायेगा। इससे उनकी सम्पति से जुडी सभी जानकारी डिजिटली उपलब्ध हो पाएंगी।

5. PM मोदी हेल्थ कार्ड योजना : यह योजना लोगो को सेहत प्रदान करने में सहायक है। इसे स्वतंत्रता दिवस के उपलक्ष्य पर बताया गया था। इसके लाभार्थियों को मेडिकल सेवा मुफ्त में मिल पाएंगी। कोई भी कितनी भी बड़ी  हो। इस कार्ड के जरिये वे आसानी से इलाज प्राप्त कर सकते हैं।

(PMAY) Pradhan Mantri Yojana list 2021-22

प्रधान मंत्री द्वारा आरंभ की गई योजनाओं से जुडी सूची इस प्रकार है :

  • (PMAY) Pradhan Mantri Yojana list 2021 (Most Popular)
    • प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना
    • पीएम मोदी हेल्थ आईडी कार्ड
    • स्वामित्व योजना
    • आयुष्मान सहकार योजना
    • प्रधानमंत्री कुसुम योजना
    • स्वनिधि योजना
    • अन्‍त्‍योदय अन्‍न योजना
    • नेशनल एजुकेशन पालिसी योजना
    • प्रधानमंत्री रोजगार योजना
    • प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना
    • आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना
    • रोजगार प्रोत्साहन योजना
    • प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना
    • किसान सम्मान निधि योजना
    • प्रधानमंत्री वय वंदना योजना
    • प्रधानमंत्री कर्म योगी मानधन योजना
    • आवास योजना लिस्ट
    • सुरक्षित मातृत्व आश्वासन सुमन योजना
    • प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना
    • प्रधानमंत्री रोज़गार योजना
    • उज्ज्वला योजना
    • प्रधानमंत्री मुद्रा लोन योजना
    • प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना
    • जीवन ज्योति बीमा योजना
    • प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना
    • प्रधानमंत्री आयुष्मान भारत योजना
    • गर्भावस्था सहायता योजना
    • पीएम कृषि सिंचाई योजना
    • प्रधानमंत्री कर्म योगी मानधन योजना
    • प्रधानमंत्री मुद्रा योजना
    • अटल पेंशन योजना
    • प्रधानमंत्री प्रवासी तीर्थ दर्शन योजना
    • प्रधानमंत्री छात्रवृत्ति योजना
    • ऑपरेशन ग्रीन योजना
    • मत्स्य सम्पदा योजना

प्रधानमंत्री आवास योजना (PMAY) लिस्ट में नाम चेक कैसे करें?

PMAY लिस्ट दो अलग-अलग कैटेगरी में उपलब्ध है – शहरी और ग्रामीण. ध्यान दें कि PMAY-ग्रामीण (रूरल) कैटेगरी के अंतर्गत व्यक्तियों को सफलतापूर्वक अप्लाई करने पर रजिस्ट्रेशन नंबर प्राप्त होता है. PMAY-G लिस्ट को चेक करते समय इस नंबर की आवश्यकता होती है.

अगर आप ग्रामीण कैटेगरी में आते हैं, तो नीचे दिए गए चरणों का पालन करें:

चरण 1: PMAY-ग्रामीण की ऑफिशियल वेबसाइट खोलें.
चरण 2: अपना सही रजिस्ट्रेशन नंबर प्रदान करें और ‘सबमिट करें’ पर क्लिक करें.

एप्लीकेंट अपने रजिस्ट्रेशन नंबर के बिना भी लाभार्थी लिस्ट चेक कर सकते हैं. इन चरणों का पालन करें:

चरण 1: PMAY-ग्रामीण की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाएं.
चरण 2: रजिस्ट्रेशन नंबर टैब को अनदेखा करें और एडवांस्ड सर्च बटन पर क्लिक करें.
चरण 3: सही विवरण के साथ दिखाई देने वाले फॉर्म को भरें.
चरण 4: ‘खोजें’ विकल्प के साथ आगे बढ़ें.

अगर आपका नाम PMAY-G लिस्ट में मौजूद है, तो सभी संबंधित विवरण दिखाई देंगे.
अगर आप शहरी कैटेगरी में आते हैं, तो नीचे दिए गए चरणों का पालन करें:

चरण 1: PMAY की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाएं.
चरण 2: आपको “लाभार्थी खोजें” मेन्यू दिखाई देगा. उसमें ‘नाम के अनुसार खोजें’ पर क्लिक करें.
चरण 3: अपने नाम के पहले तीन अक्षर प्रदान करें.
चरण 4: ‘दिखाएं’ बटन पर क्लिक करें, और PM आवास योजना की लिस्ट देखें.

PMAY लिस्ट-शहरी पर अन्य संबंधित विवरणों के साथ अपना नाम देखें. ये लाभार्थी चार्ट समय-समय पर अपडेट किए जाते हैं. इसलिए, नवीनतम PMAY लिस्ट 2021-22 चेक करें.

PMAY के लाभार्थियों की 2021-22 की लिस्ट कैसे तैयार की जाती है?

सरकार प्रधानमंत्री आवास योजना लिस्ट में लाभार्थियों की पहचान करने और चुनने के लिए SECC 2011 पर विचार करती है. SECC 2011 या सामाजिक आर्थिक और जाति जनगणना 2011, भारत में 640 जिलों में आयोजित पहली पेपरलेस जनगणना (जाति-आधारित) है. इसके अलावा, सरकार फाइनल लिस्ट बनाने के लिए तहसील और पंचायतों को शामिल करती है.

इसका उद्देश्य पारदर्शिता बनाए रखना और पात्र एप्लीकेंट को हाउसिंग लाभ प्रदान करना है.

PMAY स्कीम के लिए अप्लाई करने हेतु कौन पात्र हैं?

जो उम्मीदवार निम्नलिखित PMAY पात्रता मानदंड को पूरा करते हैं, वह इस हाउसिंग स्कीम के लिए अप्लाई करने हेतु पात्र हैं.

1.एप्लीकेंट या उसके परिवार के किसी भी सदस्य के नाम पर भारत में कहीं भी कोई पक्का घर नहीं होना चाहिए.

2.परिवार के किसी भी सदस्य ने पहले सरकार द्वारा शुरू की गई किसी भी हाउसिंग स्कीम का लाभ नहीं लिया हुआ होना चाहिए.

3.विवाहित युगल के लिए संयुक्त और एकल स्वामित्व दोनों की अनुमति है. इस मामले में, दोनों विकल्पों के लिए 1 सब्सिडी ही प्राप्त होगी.

4.एक घर की कुल वार्षिक आय रु. 6 लाख से रु. 18 लाख के भीतर होनी चाहिए. एप्लीकेंट इस प्रोग्राम के लिए अप्लाई करते समय पति/पत्नी का आय डेटा प्रदान कर सकते हैं.

5.जिन लोगों के नाम पर पहले से ही अपना एक घर है, वे PMAY स्कीम का लाभ लेने के लिए पात्र नहीं हैं.

6.निम्न आय वर्ग (LIG), मध्यम आय वर्ग (MIG) और आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग से संबंधित व्यक्ति PMAY के अंतर्गत CLSS के लिए पात्र       हैं.

इस स्कीम के अंतर्गत लाभार्थियों को केवल एक नई रेजिडेंशियल प्रॉपर्टी खरीदने या निर्माण करने की अनुमति है.

PM आवास योजना लिस्ट 2021-22 के तहत लाभार्थी कौन हैं?

मुख्य रूप से, निम्नलिखित कैटेगरी इस हाउसिंग स्कीम के सभी लाभों का आनंद ले सकती हैं.

1.आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग

2.महिलाएं (किसी भी जाति या धर्म की)

3.मध्यम आय वर्ग 1

4.मध्यम आय वर्ग 2

5.अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति

6.कम आय वाले लोग

PM आवास योजना प्रोग्राम का यह पूरा प्रोसेस अब ऑनलाइन हो गया है, जिससे यह अधिक पारदर्शी और सुविधाजनक हो गया है. लाभार्थी, प्रोग्राम की ऑफिशियल वेबसाइट से अपना एप्लीकेशन स्टेटस और PMAY लिस्ट आसानी से चेक कर सकते हैं.

PM आवास योजना स्कीम के उद्देश्य क्या हैं?

अनुमान के अनुसार, लाखों रेजिडेंशियल प्रॉपर्टी, जिनकी कीमत लगभग रु. 50 लाख है, अभी भी महानगरीय शहरों में बिकी नहीं हैं. इसके विपरीत, शहरी निम्न वर्ग और ग्रामीण आबादी के लिए लगभग 2 करोड़ हाउसिंग यूनिट्स की कमी है. PM आवास योजना का उद्देश्य इस अंतर को कम करना है. इस PMAY स्कीम के 4 मुख्य पहलू हैं:(PMAY) Pradhan Mantri Yojana list 2021-22

  • झुग्गी झोपड़ियों में रहने वाले लोगों के लिए घरों का निर्माण.
  • राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के सहयोग से किफायती हाउसिंग प्रोजेक्ट शुरू करना.
  • आर्थिक रूप से कमजोर और मध्यम आय वर्ग के लोगों के लिए अपनी CLSS स्कीम के साथ होम लोन की ब्याज़ दरों पर सब्सिडी देना.
  • EWS को रु. 1.5 लाख तक की फाइनेंशियल सहायता प्रदान करना.

भारत सरकार ने इन लाभों को विधवाओं, ट्रांसजेंडर व्यक्तियों व इन जैसे उपेक्षित वर्गों तक पहुंचाया है.

(PMAY) Pradhan Mantri Yojana list 2021-22

 

Leave a Comment