PM Garib Kalyan Yojana 2021 Online Registration, Eligibility & Benefit

दोस्तों आज हम इस पोस्ट में बात करने वाले है PM Garib Kalyan Yojana 2021 Online Registration, Eligibility & Benefit प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार अभियान योजना को आज 20th जून सुबह के 11 बजे से कर दिया गया है | जो भी इस योजना का लाभ उठाना चाहते है वो इस प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार अभियान के लिए आवेदन कर सकते हैं | इस योजना की पूरी जानकारी निचे दी हुई है |PM Garib Kalyan Yojana

केवल प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के तहत ही राशन कार्डधारकों को प्रति व्यक्ति 5 किलो अनाज मुफ्त मिलेगा। राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम के तहत दो खाद्यान्नों में से एक के लिए कार्डधारकों को निर्धारित राशि का भुगतान करना होगा।

सभी गरीब देशवाशियों के लिए खुशखबरी है कि, पीएम मोदी ने प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना लाभ को अब दीवाली तक बढ़ा दिया गया है। यानि अब 80 करोड़ से अधिक देशवासियों को, नवंबर महीने दिवाली तक हर महीने मुफ्त अनाज उपलब्ध किया जाएग। प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के तहत गरीब लोगो को 5 किलो अतिरिक्त अन्न (चावल/गेहूं) मुफ्त में मिलता है|

Table of Contents

PM Garib Kalyan Yojana 2021

The Prime Minister, Shri Narendra Modi, launched the Garib Kalyan Rozgar Abhiyan on 20th June 2020 to provide employment and empowerment to the laborers and workers returning to their villages due to the Covid 19 epidemic, which will help these workers to earn their livelihood and also provide them employment near their homes.

  • PM Garib Kalyan Rojgar Abhiyan has been launched by PM Modi on June 20.
  • This scheme has been launched to boost livelihood in rural areas of the states.
  • This campaign will run for 125 days across 116 districts to help the migrant worker and in that case, migrant workers are the sole beneficiaries of the scheme.
  • This scheme will help to create a durable infrastructure along with boosting employment opportunities.
  • Under this campaign, around 50,000 crores of public work will be carried out.
  • Among 116 districts of six states, Bihar Khagariya is the first district where the scheme has been launched.
  • 25 different types of work will be provided to the migrant worker through this mission.
  • The states benefitted from the scheme are Bihar, Uttar Pradesh, Madhya Pradesh, Rajasthan, Jharkhand, and Odisha.
  • With the help of this scheme around 67 lakh, migrant workers will be benefitted which was approximately 2/3 of the returnee migrants.

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार अभियान योजना का उद्देश्य

जैसा कि हम जानते हैं कि लगभग दो महीने के लिए राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन के कारण प्रवासियों के बहुत से श्रमिकों हास अपनी नौकरी खो दिया है और उनकी आजीविका के लिए कई चुनौतियों का सामना करना पड़ता है ।

इसलिए, ऐसे प्रवासियों को आजीविका के अवसर प्रदान करने के लिए, भारत सरकार ने गरीब कल्याण रोजगार अभियान नामक एक विशाल ग्रामीण लोक निर्माण योजना शुरू की है और इस योजना की सहायता से, इन कामगारों को सशक्त बनाया जाएगा और आजीविका के अवसर प्राप्त होंगे ।

How to register online in PM Garib Kalyan Yojana?

  1. To register, first, click on this link www.pib.nic.in.
  2. After that, the portal’s home page will open.
  3. On the home page, you will get the option to apply PMGKY, click on it.
  4. After clicking, on the next page, you have to fill in your bank details and other asked details according to the eligibility.
  5. After filing the details, you will be registered.
  6. Save the registration form and get a print cop

How to check the PM Garib Kalyan Yojana 2021 Online Registration

  1. To check the beneficiary list, you must first go to the official website.
  2. The link of which will be available in our article.
  3. After that, the home page will open on your screen.
  4. On the home page, you will get the option of PMGKY Beneficiary List, click on it.
  5. After clicking, you have to fill in your details.
  6. After that, your list will be opened.
  7. Save it and download it.
  8. If you want, you can also take out a print copy.
Official Website Click Here
MPNRC Home Click Here

PM Garib Kalyan Yojana

If you want to ask anything about this scheme, you can message us in the comment section and we will reply to your comment soon. If you want to get the latest updates first, then bookmark us.

PM Garib Kalyan Yojana 2021 Eligibility & Benefit

प्रधानमंत्री गैरेब कल्याण योजना 2021 के तहत सरकार द्वारा सूचीबद्ध निम्नलिखित लाभ हैं। हालांकि ये लाभ ऑनलाइन पात्र राशन कार्ड धारक को मिलेगा और ऑनलाइन आवेदन करने से पहले पीएम गरीब कल्याण योजना की पात्रता की जांच करेंगे। पीएमजीकेवाई योजना लाभ 2021 के बारे में ध्यान से पढ़ें:

  • Individuals who come under frontline corona warriors will be given a cover of 20 Lakh rupees to 50 lakh rupees. If any front-line warrior dies while Covid-19 duty, under this scheme your family will get coverage of this amount.
  • Farmers will be provided with an additional amount of Rupees 2000 under PM Kisan Samman Nidhi Yojana.
  • Individuals under below poverty line, economically weaker sections of the society will get 5g of rice and flour per person in the family free of cost.
  • MNREGA workers will get Rupees 202 rupees as a daily wage till the phase of a pandemic.
  • Free cylinder to 8.3 crores BPL families for the next three months. This is been under Ujjwala Scheme.
  • Benefits are been divided into two ways: Food security and DBT (Direct Bank Transfer). Food security will be provided by giving free food. DBT will be done to the beneficiary account holder of rupees 500.
  • Ex gratia amount to 20 crore widow women will be done under Jan Dhan Yojana. 500 Rupees will be transferred to their accounts.

ये सभी मूलभूत लाभ हैं जो व्यक्तियों को इस वर्ष 2021 के तहत मिलेंगे। इसके अलावा सभी लाभ केवल राशन कार्ड धारकों को ही दिए जाएंगे। नवीनतम घोषणा की है कि दिल्ली सरकार इस कोविड 19 लॉकडाउन के दौरान नवंबर महीने तक निवासी सभी आरसी धारक को मुफ्त राशन भी देती है।

आपको राशन कार्ड सूची, एनएफएस कार्ड आदि का उपयोग करके इस सुविधा का लाभ उठाना होगा। अगर आपको राशन कार्ड नहीं बनवाना है तो ऑनलाइन आवेदन करें और इस साल नवंबर के अंत तक इस योजना का लाभ प्राप्त करें।

मुख्य तथ्य प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना

योजना का नाम प्रधानमंत्री राशन सब्सिडी योजना
इनके द्वारा शुरू की गयी प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी के द्वारा
लाभार्थी देश 80 करोड़ लाभार्थी
उद्देश्य गरीब लोगो को राशन पर सब्सिडी प्रदान की जाएगी

204 मेट्रिक टन खाद का किया जाएगा कुल आवंटन

अब लगभग 80 करोड़ एनएफएसए लाभार्थियों को अतिरिक्त 204 लाख मैट्रिक टन खाद धन प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के माध्यम से प्रदान किया जाएगा। इस योजना पर होने वाला पूरा खर्च केंद्र सरकार द्वारा वहन किया जाएगा। जिस पर ₹67,266 करोड़ रुपए का खर्च होगा। इसके अलावा गेहूं चावल का आवंटन खाद्य और सार्वजनिक वितरण विभाग द्वारा किया जाएगा।

विभाग द्वारा प्रतिकूल स्थितियों को देखते हुए इस योजना का विस्तार भी किया जा सकता है। इस योजना के विस्तार करने की सराहना विदेश मंत्री एस जयशंकर द्वारा भी की गई है। प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के माध्यम से 80 करोड़ लोगों को मुफ्त भोजन प्राप्त होगा। पिछले वर्ष भी इस योजना के माध्यम से 80 करोड़ लाभार्थियों को 8 महीने तक 5 किलो खाद्यान्न प्रदान किया गया था।

मई 2021 तथा जून 2021 में एनएफएसए लाभार्थियों को प्रदान किया गया खाद्यान्न

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के अंतर्गत राज्यो एवं केंद्र शासित प्रदेशों द्वारा एफसीआई डिपो से 63.67 लाख मैट्रिक टन से अधिक खाद्यान्न लिया गया है। केंद्र सरकार द्वारा मई 2021 में लगभग 34 राज्य एवं केंद्र शासित प्रदेशों के 55 करोड़ एनएफएसए लाभार्थियों को खाद्यान्न वितरण किया गया है।

यह यह खाद्यान्न वितरण लगभग 28 लाख मैट्रिक टन है। इसके अलावा लगभग 1.3 लाख मैट्रिक टन खाद्यान्न वितरण जून 2021 में 2.6 करोड़ एनएफएसए लाभार्थियों के लिए किया गया है। खाद वितरण करते समय कोविड प्रोटोकोल का पूरा पालन किया गया है।

मई और जून 2021 में राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम के अंतर्गत 90% एवं 12% (क्रमश) एनएफएसए के लाभार्थियों को खाद्यान्न वितरित किया गया है। जिसके लिए सरकार द्वारा 13000 करोड़ रुपए की राशि खर्च की गई है।

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना प्रतिमाह आवंटन (in MT)

राज्य/केंद्र शासित प्रदेश  गेहूं  चावल  कुल
 आंध्र प्रदेश  0  134112  134112
 अंडमान निकोबार  41  263  304
 अरुणाचल प्रदेश  0  4202  4202
 आसाम  0  125164  124154
 बिहार  174233  261349  435582
 चंडीगढ़  1397  0  1397
 छत्तीसगढ़  0  100385  100385
 दादर नगर हवेली एंड दमन एंड दिउ  300  1049  1349
 दिल्ली  29112  7278  36390
 गोवा  0  2661  2661
 गुजरात  119600  51257  170857
 हरियाणा  63245  0  63245
 हिमाचल प्रदेश  8411  5911  14322
 जम्मू एंड कश्मीर  10490  25715  36205
 झारखंड  52740  79110  131850
 कर्नाटका  0  200965  200965
 केरला  14156  63244  77400
 लद्दाख  213  507  719
 लक्षदीप  0  110  110
 मध्य प्रदेश  241310  0  241310
 महाराष्ट्र  196433  153652  350085
 मणिपुर  0  9301  9301
 मेघालय  0  10728  10728
 मिजोरम  0  3341  3341
 नागालैंड  0  7023  7023
 उड़ीसा  21519  140646 162165
 पुडुचेरी  0  3152  3152
 पंजाब  70757  0  70757
 राजस्थान  220006  0  220006
 सिक्किम  0  1894  1894
 तमिल नाडु  18235  164112  182347
 तेलंगाना  0  95811  95811
 त्रिपुरा  0  12509  12509
 उत्तर प्रदेश  441576  294384  735960
 उत्तराखंड  18582  12388  30970
 पश्चिम बंगाल  180551  120368  300919
 कुल  1882908  2092579  3975487

गरीब कल्याण योजना के अंतर्गत 2 महीने का कुल आवंटन (May-June 2021) (in LMT)

राज्य/केंद्र शासित प्रदेश  गेहूं  चावल  कुल
 आंध्र प्रदेश 0.00 2.68 2.68
 अंडमान निकोबार 0.00 0.01 0.01
 अरुणाचल प्रदेश 0.00 0.08 0.08
 आसाम 0.00 2.50 2.50
 बिहार 3.48 5.23 8.71
 चंडीगढ़ 0.03 0.00 0.03
 छत्तीसगढ़ 0.00 2.01 2.01
 दादर नगर हवेली एंड दमन एंड दिउ 0.01 0.02 0.03
 दिल्ली 0.58 0.15 0.73
 गोवा 0.00 0.05 0.05
 गुजरात 2.39 1.03 3.42
 हरियाणा 1.26 0.00 1.26
 हिमाचल प्रदेश 0.17 0.12 0.29
 जम्मू एंड कश्मीर 0.21 0.51 0.72
 झारखंड 1.05 1.58 2.64
 कर्नाटका 0.00 4.02 4.02
 केरला 0.28 1.26 1.55
 लद्दाख 0.00 0.01 0.01
 लक्षदीप 0.00 0.00 0.00
 मध्य प्रदेश 4.83 0.00 4.83
 महाराष्ट्र 3.93 3.07 7.00
 मणिपुर 0.00 0.19 0.19
 मेघालय 0.00 0.21 0.21
 मिजोरम 0.00 0.07 0.07
 नागालैंड 0.00 0.14 0.14
 उड़ीसा 0.43 2.81 3.24
 पुडुचेरी 0.00 0.06 0.06
 पंजाब 1.42 0.00 1.42
 राजस्थान 4.40 0.00 4.40
 सिक्किम 0.00 0.04 0.04
 तमिल नाडु 0.36 3.28 3.65
 तेलंगाना 0.00 1.92 1.92
 त्रिपुरा 0.00 0.25 0.25
 उत्तर प्रदेश 8.83 5.89 14.72
 उत्तराखंड 0.37 0.25 0.62
 पश्चिम बंगाल 3.61 2.41 6.02
 कुल 37.66 41.85 79.51

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के अंतर्गत उठान (प्रगतिशील) (in MT)

राज्य/केंद्र शासित प्रदेश  गेहूं  चावल  कुल मासिक आवंटन की प्रतिशत
 आंध्र प्रदेश 0 268223 268223 200
 अंडमान निकोबार 0 526 526 173
 अरुणाचल प्रदेश 0 8403 8403 200
 आसाम 0 214397 214397 171
 बिहार 297246 304083 601329 138
 चंडीगढ़ 2794 0 2794 200
 छत्तीसगढ़ 0 199646 199646 199
 दादर नगर हवेली एंड दमन एंड दिउ 583 2045 2628 195
 दिल्ली 55098 13388 68486 188
 गोवा 0 5322 5322 200
 गुजरात 207267 93489 300756 176
 हरियाणा 113103 0 113103 179
 हिमाचल प्रदेश 16683 11717 28400 198
 जम्मू एंड कश्मीर 18966 45808 64774 179
 झारखंड 93823 149980 243803 185
 कर्नाटका 0 363163 363163 181
 केरला 28313 126487 154800 200
 लद्दाख 412 966 1378 192
 लक्षदीप 0 220 220 200
 मध्य प्रदेश 450378 0 450378 187
 महाराष्ट्र 276788 137715 414503 118
 मणिपुर 0 18204 18204 196
 मेघालय 0 21455 21455 200
 मिजोरम 0 6682 6682 200
 नागालैंड 0 14047 14047 200
 उड़ीसा 41893 242925 284818 176
 पुडुचेरी 0 6303 6303 200
 पंजाब 141513 0 141513 200
 राजस्थान 307134 0 307134 140
 सिक्किम 0 3630 3630 192
 तमिल नाडु 35416 319189 354605 194
 तेलंगाना 0 191620 191620 200
 त्रिपुरा 0 25018 25018 200
 उत्तर प्रदेश 855396 573686 1429082 194
 उत्तराखंड 34619 22682 57301 185
 पश्चिम बंगाल 317760 202890 520650 173
 कुल 3295185 3593909 6889094 173

दीपावली तक बढ़ाया गया प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना का दायरा

इस योजना के अंतर्गत प्रति व्यक्ति प्रति महीने 5 किलोग्राम खाद्यान्न उपलब्ध करवाया जाएगा। सरकार द्वारा इस योजना के दायरे को अब दीपावली तक बढ़ाने का फैसला किया गया है। इस बात की जानकारी खुद प्रधानमंत्री जी के द्वारा राष्ट्र के संबोधन में प्रदान की गई है। जिसके तहत लगभग 80 करोड लाभार्थियों को नवंबर 2021 तक मुफ्त खाद्यान्न प्राप्त होगा।

भारत सरकार द्वारा प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के अंतर्गत खाद्य सब्सिडी, अंतर राज्य परिवहन और डीलर मार्जिन/ अतिरिक्त डीलर मार्जिन का पूरा खर्च बिना किसी राज्य या केंद्र शासित प्रदेश की साझेदारी के वहन किया जाएगा।

राज्यों एवं केंद्र शासित प्रदेशों द्वारा किया गया खाद्यान्न का उठान

इनमें से 13 राज्यों एवं केंद्र शासित प्रदेशों द्वारा मई-जून 2021 के आवंटन का पूरा उठान किया जा चुका है। इन राज्यों में आंध्र प्रदेश, अरुणाचल प्रदेश, चंडीगढ़, गोवा, केरला, लक्षदीप, मेघालय, मिजोरम, नागालैंड, पुडुचेरी, पंजाब, तेलंगाना तथा त्रिपुरा शामिल है। इसके अलावा 23 राज्यों एवं यूनियन टेरिटरी द्वारा मई 2021 के आवंटन का पूरा उठान कर लिया गया है।

जिसमें अंडमान और निकोबार द्वीप समूह, आसाम, बिहार, छत्तीसगढ़, दमन दिउ, दिल्ली, गुजरात, हरियाणा, हिमाचल प्रदेश, जम्मू कश्मीर, झारखंड, कर्नाटका, लद्दाख, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, मणिपुर, ओड़िशा, राजस्थान, सिक्किम, तमिल नाडु, उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड और पश्चिम बंगाल शामिल है।

पूर्वोत्तर के 5 राज्यों द्वारा भी आवंटन का 100% उठान कर लिया गया है। इन पांच राज्यों में अरुणाचल प्रदेश, मेघालय, मिजोरम, नागालैंड तथा त्रिपुरा शामिल है। मणिपुर तथा असम द्वारा भी खाद्यान्न उठान का काम चल रहा है और जल्द 100% उठान इन राज्यों द्वारा भी कर लिया जाएगा।

PMGKY के तहत कोरोना वारियर्स के लिए नए बीमा कवर

केंद्र सरकार द्वारा कोरोना महामारी के समय गरीबों को ध्यान में रखते हुए प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना को 26 मार्च 2020 में आरंभ किया गया था जिसके तहत देश के लोगों को विभिन्न प्रकार की सुविधाएं प्रदान की गई थी। परंतु सोमवार में हुई घोषणा के दौरान स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय ने प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के वर्तमान दावों को 24 अप्रैल 2021 तक निपटाने का दावा किया है ताकि कोरोना वारियर्स के लिए नए कवर का निर्माण कर सकें।

मंत्रालय ने कोरोना योद्धा के संबंध में ट्वीट कर बताया कि PMGKY के तहत 24 अप्रैल 2021 तक उपलब्ध बीमा कवर को निपटाया जाएगा तथा इसके फौरन बाद कोरोना वारियर्स को एक नया वितरण प्रदान किया जाएगा।

  • मंत्रालय समेत बीमा कंपनियों द्वारा नए कवर में योद्धाओं को ₹5000000 तक का बीमा कवर प्रदान किया जाएगा।
  • साथ ही साथ मंत्रालय द्वारा ट्वीट करके बताया गया कि इस नए बीमा कवर के लिए मंत्रालय ने बीमा इंश्योरेंस कंपनियों से बात कर ली गई है।
  • इस कवर को प्रदान करने का मुख्य उद्देश्य है कि कोविड-19 योद्धाओं जिन्होंने इस महामारी के समय महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है उनका मनोबल बढ़ाया जा सके।

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण पैकेज

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण पैकेज की घोषणा हमारे देश के वित्त मंत्री श्रीमती निर्मला सीतारमण जी के द्वारा की गई थी। इस पैकेज का बजट 1.70 लाख करोड़ रुपए था। देश के नागरिकों को कोरोनावायरस संक्रमण से लड़ने में सहायता प्रदान करने के लिए इस पैकेज का आरंभ किया गया था। इस योजना के अंतर्गत कई प्रकार की घोषणाएं की गई थी जो कि कुछ इस प्रकार है।

स्वास्थ्य कर्मियों के लिए बीमा योजना

इस योजना के माध्यम से संक्रमित मरीजों के इलाज करने वाले स्वास्थ्य कर्मियों को 5000000 रुपए का इंश्योरेंस कवर प्रदान किया गया था। इसके अलावा केंद्र और राज्य सरकार के स्वास्थ्य केंद्र एवं अस्पतालों को भी इस योजना के अंतर्गत कवर किया गया था। इन सभी स्वास्थ्य केंद्रों एवं अस्पतालों में काम करने वाले स्वस्थ कर्मचारियों को 22 लाख रुपए का बीमा कवर प्रदान किया गया था। इस योजना का लाभ सफाई कर्मी, वार्ड बॉय, नर्स, आशा कार्यकर्ता, पैरामेडिक, तकनीशियन, डॉक्टर आदि द्वारा उठाया जा सकता है।

पीएम गरीब कल्याण अन्न योजना

पीएम गरीब कल्याण योजना के माध्यम से केंद्र सरकार ने सभी पात्र लाभार्थियों तक मुफ्त राशन पहुंचाने की घोषणा की थी। इस योजना के माध्यम से लगभग 80 करोड नागरिकों को मुफ्त राशन पहुंचाया गया है। सरकार द्वारा पीएम गरीब कल्याण योजना को 3 महीने के लिए आरंभ किया गया था जिसका परिस्थितियों के कारण विस्तार कर दिया गया था।

निर्माण श्रमिकों के लिए राहत पैकेज

केंद्र सरकार द्वारा सभी राज्य सरकारों से निर्माण श्रमिकों को राहत पहुंचाने के लिए बिल्डिंग एंड कंस्ट्रक्शन वर्कर वेलफेयर फंड का इस्तेमाल करने के आदेश दिए गए थे। इस फंड के माध्यम से निर्माण श्रमिकों को आर्थिक सहायता प्रदान की गई है।

पीएम किसान योजना

इस योजना के अंतर्गत सरकार द्वारा सभी पात्र किसानों को ₹2000 रुपए की राशि साल में तीन बार प्रदान की जाती है। अप्रैल 2020 के पहले हफ्ते में यह राशि किसानों के खाते में पहुंचाने का निर्णय प्रधानमंत्री गरीब कल्याण पैकेज के अंतर्गत लिया गया था। इस योजना का लाभ लगभग 8.7 करोड़ किसानों को प्राप्त हुआ था।

मनरेगा

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण पैकेज के माध्यम से सभी मनरेगा श्रमिकों के वेतन को बढ़ाने का भी निर्णय लिया गया था। पहले यह वतन ₹182 रुपए प्रतिदिन था जिसे बढ़ाकर ₹202 रुपए प्रतिदिन कर दिया गया। इस योजना के माध्यम से लगभग 13.62 करोड़ परिवारों को लाभ पहुंचेगा।

जन धन अकाउंट

देश के सभी महिलाएं जिन्होंने अपना जनधन अकाउंट खोला था उनको 3 महीने तक प्रतिमाह ₹500 रुपए प्रदान किए गए।इस योजना के माध्यम से लगभग 20 करोड महिलाओं के खाते में 3 माह तक ₹500 की राशि हस्तांतरित की गई है।

डिस्ट्रिक्ट मिनिरल्स फंड

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण पैकेज के अंतर्गत केंद्र सरकार द्वारा सभी राज्य सरकारों से डिस्ट्रिक्ट मिनरल फंड का प्रयोग करने के आदेश दिए गए हैं जिससे कि कोरोनावायरस संक्रमण को रोका जा सके।

वरिष्ठ नागरिकों, विधवाओं एवं दिव्यांगों को आर्थिक सहायता

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण पैकेज के माध्यम से सभी वरिष्ठ नागरिक को, विधवाओं एवं दिव्यांग नागरिकों को ₹1000 की आर्थिक सहायता 3 महीने के लिए प्रदान की गई थी. जिसके माध्यम से लगभग 3 करोड़ नागरिकों को लाभ प्राप्त हुआ था।

पीएम गरीब कल्याण योजना

जैसे की आप लोग जानते है कि 12 मई को 2020 को हमारे देश के प्रधानमंत्री जी के द्वारा 20 लाख करोड़ रुपए के आत्मनिर्भर भारत पैकेज की घोषणा की गयी है इस 20 लाख करोड़ रूपये के राहत पैकेज के दूसरे फेज की घोषणा हमारे देश की वित् मंत्री निर्मला सीतारमण जी के द्वारा गुरुवार को की गयी है |

इस घोषणा के अंतर्गत प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के अंतर्गत देश के जिन प्रवासी मजदूरों के पास अपना राशन कार्ड नहीं हो उन मजदूर परिवारों को अब 5 Kg चावल/गेंहूं और 1kg चना प्रति परिवार के दर से दो महीने तक सरकार द्वारा उपलब्ध कराया जायेगा | इससे देश के करीब 8 करोड़ प्रवासियों को फायदा होगा। इस पर करीब 3500 करोड़ रुपए खर्च होंगे। इसका पूरा खर्च केंद्र सरकार उठाएगी।

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण की कुछ अन्य महत्वपूर्ण घोषणाएं

चिकित्सक एवं अन्य मेडिकल स्टाफ बीमा योजना

इस योजना के अंतर्गत भारत सरकार द्वारा चिकित्सा क्षेत्र में कार्यरत सभी कार्यकर्ताओं जैसे डॉक्टर नर्स मेडिकल स्टाफ आशा वर्कर्स व अन्य सभी स्टाफ को सरकार की तरफ से रु 50 लाख तक का बीमा उपलब्ध कराया जाएगा इस योजना को आरंभ करने का उद्देश्य चिकित्सा क्षेत्र में कार्य कर रहे कार्यकर्ताओं को सुरक्षा प्रदान करना है तथा साथ ही साथ उन्हें करो ना वायरस से लड़ रहे मरीजों की अच्छी देखभाल करने के लिए प्रेरित करना है

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण दिव्यांग पेंशन योजना

माननीय श्रीमती निर्मला सीतारमण ने संबंधित संबोधित करते हुए बताया कि देश में चल रहे हालातों के मद्देनजर सरकार द्वारा देश के बुजुर्गों दिव्यांगों के लिए आने वाले 3 महीनों तक रु 1000 की अतिरिक्त पेंशन प्रदान की जाएगी तथा यह लाभडीबीटी जोकि डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर के माध्यम से दी जाएगी इस योजना के अंतर्गत लगभग तीन करोड़ लाभार्थी शामिल होंगे

स्वयं सेवा समूह के लिए दीनदयाल योजना

भारत सरकार द्वारा दीनदयाल योजना के अंतर्गत संशोधन करते हुए अब महिला स्वयं सहायता समूह के अंतर्गत कार्यरत महिलाओं को ₹20 लाख तक का लोन उपलब्ध कराएगा कराया जाएगा यह धनराशि पहले रुपए 10 लाख तक सीमित थी साथ ही साथ सरकार द्वारा आने वाले 3 माह तक सभी महिलाओं जिनके खाते जनधन के अंतर्गत खुले हुए हैं उन्हें अगले 3 माह तक रु 500 की धनराशि डीबीटी के माध्यम से उपलब्ध कराई जाएगी

एलपीजी बीपीएल गैस योजना

करोना वायरस की आपदा को मद्देनजर रखते हुए सरकार द्वारा हाल ही में 21 दिन का लॉक डाउन करने का निर्णय लिया गया था परंतु साथ ही साथ गरीबों की स्थिति को देखते हुए भारत सरकार द्वारा आने वाले 3 माह तक सभी बीपीएल परिवारों को तीन एलपीजी गैस सिलेंडर बिल्कुल मुफ्त प्रदान किए जाएंगे योजना के अंतर्गत लगभग 8.3 लिखा था करोड़ लाभार्थी शामिल होंगे|उज्ज्वला योजना के तहत 97.8 लाख सिलेंडर जरूरतमंदों तक पहुंचाए गए हैं

3 माह का ईपीएफ देगी सरकार

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के अंतर्गत सरकार द्वारा यह भी एक घोषणा की गई है कि आने वाले 3 माह तक भारत सरकार द्वारा इपीएफ कंट्रीब्यूशन केंद्र सरकार द्वारा किया जाएगा अर्थात केंद्र सरकार द्वारा 24 फ़ीसदी कंट्रीब्यूशन कर्मचारियों के EPF खाते में किया जाएगा इसका लाभ उन सभी कंपनियों को मिलेगा जिनमें 100 या उससे अधिक कर्मचारी कार्य करते हैं तथा कर्मचारियों का वेतन कम से कम ₹15000 है |

योजना की मुख्य बातें

  • देश के जो लोग चिकत्सा क्षेत्र से जुडी हुए है और कोरोना वायरस के खिलाफ अपनी जान की बाजी लगा रहे है उन्हें केंद्र सरकार द्वारा 50 लाख रूपये तक का जीवन बीमा प्रदान किया जायेगा ।
  • देश की वित् मंत्री निर्मला सीतारमण जी ने इस योजना के अंतर्गत देश के किसानों, मनरेगा मजदूर, गरीब विधवा, गरीब दिव्यांग और गरीब पेंशनधारक, जनधन योजना, उज्जवला के लाभार्थी, स्वयं सहायता समूह की महिलाएं, संगठित क्षेत्र के कर्मचारी और निर्माण में काम कर रहे लोगों के लिए एलान किया।
  • इसी योजना के हिस्से के रूप में 2.82 करोड़ लोगों को 1405 करोड़ रुपये की पेंशन भेजी गई है। इनमें विधवा पेंशन, वरिष्ठ नागरिक और दिव्यांगों को दी जाने वाली पेंशन राशि शामिल है
  • बुजुर्गों, दिव्यांगों और विधवाओं को दो किस्तों में तीन महीने तक 1000   रुपये अतिरिक्त दिए जायेगे । इससे तीन करोड़ लोगों को लाभ प्रदान  किया जायेगा ।
  • उज्ज्वला योजना के लाभार्थियों को तीन महीने तक मुफ्त सिलेंडर दिए जाएंगे। जिसमे देश के  लगभग 8  करोड़ लाभार्थियों को फायदा होगा ।
  • प्रधानमंत्री जनधन योजना के अंतर्गत देश की महिला जनधन खाताधारकों को 3 महीने तक 500 रुपये प्रति माह  की राशि प्रदान  की  जाएगी। इससे लगभग 20  करोड़ महिलाओं को लाभ दिया जायेगा ।

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना की कुछ मुख्य विशेष बातें

योजना का लाभ राशि / लाभ
राशन कार्डधारक (80 करोड़ लोग) अतिरिक्त रूप से 5 किलो राशन मुफ्त
कोरोना योद्धा (डॉक्टर, नर्स, स्टाफ) 50 लाख का बीमा
किसान (पीएम किसान योजना में पंजीकृत) 2000 / – (अप्रैल प्रथम सप्ताह में)
जन धन खाताधारक (महिला) 500 / – अगले तीन महीने
विधुर, गरीब नागरिक, विकलांग, वरिष्ठ नागरिक 1000 / – (अगले तीन महीने के लिए)
उज्जवला योजना अगले तीन महीने तक सिलेंडर फ्री
स्वयं सहायता समूहों 10 लाख अतिरिक्त ऋण मिलेगा
निर्माण मजदूर उनके लिए 31000 Cr Fund का उपयोग किया जाएगा
ईपीएफ अगले तीन महीने के लिए सरकार द्वारा 24% (12% + 12%) का भुगतान किया जाएगा

प्रधानमंत्री राशन सब्सिडी योजना के लाभ

  • इस योजना का लाभ देश के सभी  राशन कार्ड धारक लाभ उठा सकते है ।
  • इस योजना के तहत देश के 80 करोड़ लाभार्थियों को राशन सब्सिडी प्रदान किया जायेगा ।
  • देश के लोगो को तीन महीने तक गेहू  2 रूपये प्रतिकिलो और चावल 3 रूपये प्रतिकिलो की दर से राशन राशन की दुकानों पर  दिया जायेगा ।
  • प्रधानमंत्री राशन सब्सिडी योजना के अंतर्गत देश 80 करोड़ लाभार्थियों को 3 महीने तक 7 किलो राशन सरकार द्वारा प्रदान  किया जायेगा ।
  • इस योजना के तहत 5.29 करो़ड़ लोगों को 2.65 लाख मीट्रिक टन राशन अब तक दिया गया है।

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना में पंजीकरण कैसे करे ?

देश के जो गरीब लोग इस योजना के अंतर्गत सब्सिडी पर राशन सरकार द्वारा प्राप्त करना चाहते है तो उन्हें निचे दिए गए दिशा निर्देश को पढ़ना होगा। प्रधानमंत्री राशन सब्सिडी योजना के तहत लाभ प्राप्त करने के लिए कोई पंजीकरण की प्रक्रिया नहीं है । देश के जो इच्छुक लाभार्थी इस योजना के अंतर्गत 2 रूपये प्रतिकिलो की दर से गेहू और 3 रूपये प्रतिकिलो की दर से चावल प्राप्त करना चाहते है तो वह राशन की दुकान पर जाकर अपने राशन कार्ड के ज़रिये प्राप्त कर सकते है ।सब्सिडी पर राशन लेकर देश के गरीब लोग अपना जीवन यापन कर सकते है

Conclusion / निष्कर्ष:-

आशा करता हु दोस्तों आपको ये लेख जरूर पसंद आया होगा। और इस लेख मे मेने PM Garib Kalyan Yojana 2021 Online Registration, Eligibility & Benefit इसके बारे मे पूरी जानकारी दी हुई है। इसके लिए आप मेरे इस लेख को शेयर भी कर सकते हो |अगर आपके मन में कोई सवाल है तो आप हमें नीचे कमेंट करके बता सकते हैं |

इसी तरह के जानकारी के लिए आप हमारी Website पर Visit करे, और अगर यह पोस्ट पसंद आई हो तो इसे अपने मित्रों को और अपने सोशल साइट शेयर जरूर करें, धन्यवाद |

Leave a Comment