(रजिस्ट्रेशन) Jharkhand Muhymantri Shrmik Rojgar Yojana 2021 ऑनलाइन आवेदन

Jharkhand Muhymantri Shrmik Rojgar Yojana हेलो, दोस्तों आज हम इस पोस्ट में बात करने वाले है (रजिस्ट्रेशन) Jharkhand Muhymantri Shrmik Rojgar Yojana 2021 ऑनलाइन आवेदन, इस योजना के अंतर्गत देश के अलग-अलग हिस्सों से कोरोना वायरस की वजह से लॉक डाउन में झारखंड लौट कर आए प्रवासी मजदूरों को रोजगार के अवसर राज्य सरकार द्वारा उपलब्ध कराये जायेगे। यह महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना (MGNREGS) की तरह शहरी अकुशल श्रमिकों को रोजगार प्रदान करने के लिए 100 दिन की नौकरी की गारंटी योजना है।Jharkhand Muhymantri Shrmik Rojgar Yojana

इस योजना से जुडी जानकारिया जैसे Jharkhand Muhymantri Shrmik Rojgar Yojana 2021 or झारखण्ड मुख्यमंत्री श्रमिक रोजगार योजना के लाभ , योग्यता और पात्रता ,आवश्यक दस्तावेज ,आवेदन की प्रक्रिया इत्यादि के बारे में विस्तार से जानने के लिए हमारे इस आर्टिकल को अंत तक पूरा पढ़े। तो आइये आज के आर्टिकल की शुरुआत करते है

Jharkhand Muhymantri Shrmik Rojgar Yojana 2021

इस योजना के तहत झारखंड के शहरों में निवास करनेवाले 18 वर्ष से ज्यादा उम्र के अकुशल श्रमिकों को एक वित्तीय वर्ष में 100 दिनों के रोजगार की गारंटी मिलेगी। अगर कोई शहरी स्थानीय निकाय 15 दिनों के भीतर नौकरी चाहने वालों को काम देने में विफल रहता है। इसके अलावा, पंजीकृत (पंजीकृत) लाभार्थियों को जॉब कार्ड प्रदान किए जाएंगे। झारखंड मुख्यमंत्री श्रमिक रोजगार योजना के अंतर्गत इच्छुक प्रवासी श्रमिक इस योजना के लिए आवेदन कर सकते हैं। यदि इस योजना के अंतर्गत किसी भी प्रवासी श्रमिक को रोजगार नहीं मिल पाए तो उन्हें झारखण्ड सरकार द्वारा बेरोजगारी भत्ता प्रदान करने का प्रावधान किया गया है। बेरोजगारी भत्ता मिलने के बाद उन्हें राज्य सरकार द्वारा रोजगार प्रदान कर दिया जायेगा।

झारखंड मुख्यमंत्री श्रमिक रोजगार योजना की एक नई पहल

झारखण्ड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन जी के द्वारा 15 अगस्त को मुख्यमंत्री श्रमिक रोजगार योजना को आरम्भ कर दिया है इसके तहत ग्रामीण क्षेत्रों के श्रमिकों की तरह ही शहरी क्षेत्र में रहने वाले सभी बेरोजगारों को साल में 100 दिनों के लिए रोजगार गारंटी का वादा किया गया है। यही नहीं 15 दिनों में काम नहीं मिलने पर बेरोजगारी भत्ता देने का प्रावधान किया गया है।

मुख्यमंत्री श्रमिक योजना जॉब कार्ड के लिए ऑनलाइन आवेदन करने के लिए राज्य सरकार ने एक पोर्टल भी लॉंच कर दिया है  राज्य के इच्छुक लाभार्थी इस योजना के तहत ऑनलाइन आवेदन कर सकते है। इस योजना के तहत राज्य में लगभग 5 लाख परिवार लाभान्वित होंगे।

झारखण्ड मुख्यमंत्री श्रमिक रोजगार योजना का उद्देश्य

हमारे भारत देश में कोरोना वायरस का संक्रमण दिन प्रतिदिन बढ़ता जा रहा है जिसकी वजह से लॉक डाउन कि स्थिति भी बढ़ती जा रही है।  लॉक डाउन कि वजह से झारखण्ड राज्य के जो मजदूरों काम कि वजह से दूसरे राज्य में फसे हुए थे वह वापस अपने घर आ चुके है लेकिन उनके पास अपने आजीविका के लिए कोई रोजगार नहीं है

इस सभी परेशानियों को देखते हुए झारखण्ड सरकार ने झारखण्ड मुख्यमंत्री श्रमिक रोजगार योजना को शुरू करने का फैसला लिया है इस योजना के तहत झारखण्ड के शहरी क्षेत्र में वापस आये प्रवासी मजदुर जिनके पास कोई रोजगार नहीं है उन्हें सरकार द्वारा रोजगार मुहैया कराना जिससे वह अपना और अपने परिवार का भरण पोषण कर सके।  झारखण्ड सरकार का मुख्या उद्देश्य सभी प्रवासी श्रमिकों को अपने राज्यों में रोजगार मिले।

मुख्यमंत्री श्रमिक रोजगार योजना झारखण्ड प्रमुख तथ्य

योजना का नाम झारखण्ड श्रमिक रोजगार योजना
आरम्भ की गई मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन जी के द्वारा
लाभार्थी प्रवासी मजदूर
आवेदन की प्रक्रिया ऑनलाइन
लाभ श्रमिकों को रोजगार के अवसर प्रदान करना
श्रेणी झारखण्ड सरकारी योजनाएं
आधिकारिक वेबसाइट www.jharkhand.gov.in/

झारखंड मुख्यमंत्री श्रमिक रोजगार योजना कि महत्वपूर्ण बातें

1. पिछले 1 वर्ष में प्रदान किए गए 26243 जॉब कार्ड

इस योजना के अंतर्गत मनरेगा की तरह प्रदेश के अकुशल श्रमिकों को रोजगार उपलब्ध करवाया जाएगा। इस योजना को 14 अगस्त 2020 को आरंभ किया गया था। जिसमें 50 नगर निकायों को शामिल किया गया था। अब तक इस योजना के माध्यम से 33462 आवेदन प्राप्त हुए है। जिसमें से 232246 मानव दिवस सृजित किए जा चुके हैं।

इसके अलावा राज्य सरकार द्वारा 26243 जॉब कार्ड श्रमिकों को प्रदान किए जा चुके हैं। यह योजना कोरोनावायरस लॉकडाउन को ध्यान में रखते हुए आरंभ की गई थी। इस योजना के माध्यम से प्रदेश के श्रमिक 100 दिनों की रोजगार गारंटी प्राप्त कर सकेंगे। इस योजना का लाभ श्रमिक को तभी प्रदान किया जाएगा जब श्रमिक को मनरेगा योजना का लाभ नहीं प्राप्त हो रहा हो।

2. 75% टारगेट को किया गया प्राप्त

इस योजना के माध्यम से उन सभी नागरिकों को रोजगार प्रदान किया जाएगा जिनका लॉकडाउन के कारण रोजगार छिन गया था। इस बात की जानकारी खुद नगर परिषद द्वारा प्रदान की गई। उनके द्वारा यह भी जानकारी साझा की गई कि परिषद के पदाधिकारियों से लेकर कर्मियों तक टारगेट पूरा करने में एक अहम भूमिका निभाई गई है।

जिले में अगर कोई भी श्रमिक ऐसा है जिसे काम नहीं मिलता है तो उस श्रमिक को नगर परिषद द्वारा मजदूरी उपलब्ध करवाई जाएगी। गोड्डा जिले को राज्य से 8432 दिवस मजदूरी का टारगेट प्राप्त हुआ था। जिसमें से 75% से भी अधिक टारगेट पूरा कर लिया गया है। जिसके माध्यम से कुल 103 श्रमिकों को कार्य प्रदान किया गया है।

3. बेरोजगारी भत्ते का प्रावधान

झारखंड मुख्यमंत्री श्रमिक रोजगार योजना के अंतर्गत प्रावधान है। इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए श्रमिकों को अपना जॉब कार्ड बनवाना होगा। यह जॉब कार्ड बनवाने के लिए सरकार द्वारा एक पोर्टल भी लॉन्च किया गया है। इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए आपको आधार कार्ड, पहचान पत्र, निवास प्रमाण पत्र, पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ और मोबाइल नंबर देना अनिवार्य होगा। यदि 15 दिन के भीतर श्रमिक को काम नहीं दिया जाता है

ऑफलाइन आवेदन करने के लिए श्रमिक को अपने नजदीकी नगर निकाय कार्यालय में संपर्क करना होगा। श्रमिक द्वारा टोल फ्री नंबर पर संपर्क करके भी इस योजना से संबंधित जानकारी प्राप्त की जा सकती है। टोल फ्री नंबर 1800 120 2929 है।

4. कार्यस्थल पर मिलने वाली सुविधाएं

झारखण्ड सरकार के विभिन्न विभागों की ओर से शहरों में चलायी जा रही योजनाओं में वहां के स्थानीय श्रमिकों को रोजगार सुनिश्चित कराया जायेगा. कार्यस्थल पर शुद्ध पेयजल, प्राथमिक चिकित्सा के लिए फर्स्ट एड बॉक्स आदि की व्यवस्था की जायेगी. यदि वहां कोई महिला कामगार होगी, तो उनके बच्चों को रखने की भी व्यवस्था की जायेगी, ताकि वे निश्चिंत होकर काम कर सकें |

Jharkhand Mukhyamantri Shramik Rojgar Yojana के फायदे क्या है 

  • इस योजना का लाभ झारखण्ड के शहरी क्षेत्रो में  वापस आये प्रवासी मजदूरों को रोजगार के अवसर उपलब्ध कराया जायेगा।
  • सरकार ऐसे अकुशल मजदूर को जो शहरी क्षेत्र में है, उन्हें 100 दिन की रोजगार की गारंटी दे रही है. यह योजना मनरेगा योजना की तरह लोगों को एक साल में 100 दिन का काम देगी।
  • इस योजना के तहत अगर किसी मजदूर को रोजगार नहीं मिल पाया तो उन्हें राज्य सरकार द्वारा बेरोजगारी भत्ता प्रदान किया जायेगा।
  • झारखण्ड मुख्यमंत्री श्रमिक रोजगार योजना के तहत प्रवासी मजदूरों को जॉब कार्ड प्रदान किया जायेगा।
  • नगर विकास एवं आवास विभाग द्वारा ये योजना, राज्य शहरी आजीविका मिशन के माध्यम से संचालित करायी जाएगी।
  • इस योजना के तहत झारखंड के शहरों में निवास करनेवाले 18 वर्ष से ज्यादा उम्र के अकुशल श्रमिकों को एक वित्तीय वर्ष में 100 दिनों के रोजगार की गारंटी मिलेगी।
  • अगर कोई शहरी स्थानीय निकाय 15 दिनों के भीतर नौकरी चाहने वालों को काम देने में विफल रहता है। इसके अलावा, पंजीकृत (पंजीकृत) लाभार्थियों को जॉब कार्ड प्रदान किए जाएंगे।
  • झारखंड मुख्यमंत्री गरीब रोजगार  योजना 2020 के लिए, प्रत्येक प्रवासी मजदूरों को ऑनलाइन / ऑफ़लाइन विधि के माध्यम से नौकरी के लिए आवेदन करना होगा।
  • सभी शहरी स्थानीय निकायों (ULB) को प्रवासी श्रमिकों के रोजगार के लिए विशेष योजना बनाने के लिए अलग से धन दिया जाएगा। सीएम ने कहा कि “स्वच्छता कार्यों से लेकर विकास परियोजनाओं तक शहरी क्षेत्रों में नौकरियों के बहुत सारे अवसर हैं”।
  • मजदूरों को पहले महीने भत्ता के रूप में न्यूनतम मजदूरी का एक चौथाई भाग दे दिया जायेगा. 60 दिन हो जाने के बाद आधी मजदूरी उसे दे दी जाएगी। फिर पूरे 100 दिन हो जाने के बाद श्रमिक को पूरे 100 दिन की मजदूरी भत्ता के रूप में प्राप्त हो जाएगी |

Jharkhand Muhymantri Shrmik Rojgar Yojana का  पात्रता मानदंड

इस योजना का लाभ लेने के लिए आपको दिए गए पात्रता मानदंडों को अनिवार्य रूप से निम्न प्रकार पूरा करना होगा –

  • आवेदक झारखण्ड का स्थायी निवासी होना चाहिए। वह 1 अप्रैल 2015 से शहरी क्षेत्रों में रहना चाहिए।
  • Jharkhand Mukhyamantri Shramik Rojgar Yojana के तहत आवेदक की आयु 18 वर्ष और उससे अधिक होनी चाहिए।
  • ग्रामीण क्षेत्रों में आवेदक के पास मनरेगा कार्ड नहीं होना चाहिए।
  • दैनिक वेतन भोगी कर्मचारी, सरकारी आश्रय में रहकर, पिछले तीन वर्षों से नई योजना के लिए पात्र होंगे।

झारखंड श्रमिक रोजगार आवेदन आवश्यक दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • पहचान पत्र
  • निवास प्रमाण पत्र
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो

Jharkhand Muhymantri Shrmik Rojgar Yojana में आवेदन कैसे करे?

राज्य के  जो इच्छुक लाभार्थी इस योजना के तहत ऑनलाइन आवेदन करना चाहते है तो वह नीचे दिए गए तरीके को फॉलो करे।

  • सबसे पहले आपको योजना की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाना होगा। ऑफिसियल वेबसाइट पर जाने के बाद आपके सामने होम पेज खुल जायेगा।
  • इस होम पेज पर आपको “APPLICATION” टैब के अंदर “Apply for Job card” का लिंक दिखाई देगा। आपको इस लिंक पर क्लिक करना होगा।
Jharkhand Muhymantri Shrmik Rojgar Yojana
  • इसके बाद आपके सामने आवेदन पत्र खुल जाएगा आपको इस आवेदन फॉर्म में आपको पूछी गयी सभी जानकारी जैसे कि पता, जिला, शहरी स्थानीय निकाय, वार्ड, पिन कोड और घर में जो भी जॉब कार्ड बनवाने के इच्छुक हैं उन सभी सदस्यों की जानकारी जैसे नाम, जन्म तिथि, लिंग, आधार नंबर और मोबाइल नंबर आदि भरनी होगी।
  • सभी जानकारी भरने के बाद नीचे दिया गए “I agree to above declaration / मैं उपरोक्त घोषणा से सहमत हूँ” पर क्लिक करें और दिये गए नंबरों को भरनी होगी ।
  • सभी जानकारी भरने के बाद आपको सबमिट के बटन पर क्लिक करना होगा। आप इस “Submit” बटन पर क्लिक करके अपना आवेदन पूरा कर सकते हैं। योजना के आवेदन के लिए आपको एक निवास प्रमाण पत्र भी अपलोड करना पद सकता है जिससे पता चले की आप झारखंड के शारी क्षेत्र के निवासी हैं।
  • इसके बाद आपका आवेदन विभाग के पास स्वीकृती के लिए चला जाएगा और आपको एक “Application Ref Number / आवेदन संदर्भ संख्या” दे दी जाएगी जिसका इस्तेमाल आप अपने जॉब कार्ड को डाउनलोड करने के लिए कर सकते हैं।

Conclusion:

In This Post, We will share about (रजिस्ट्रेशन) Jharkhand Muhymantri Shrmik Rojgar Yojana 2021 ऑनलाइन आवेदन, if you have any queries so you can drop the comment in the comment box. we will reply to you. I hope you like this post so please share it on your social media handles & Friends.

For more information visit our Website: Allaeps Don’t forget to subscribe to our newsletter to get new updates related to the posts, Thanks for reading this article till the end.

Leave a Comment